स्वयं को मूल्यहीन कदापि न समझें ।।

स्वयं को मूल्यहीन कदापि न समझें ।। Apne Aap Ko Kabhi Mulyahin Na Samajhen. जय श्रीमन्नारायण, मित्रों, कई लोग कई मौकों

Read more

ईश्वर चिंतन सकारात्मक सोंच एवं निर्णय लेने की क्षमता प्रदान करती है ।।

ईश्वर चिंतन सकारात्मक सोंच एवं निर्णय लेने की क्षमता प्रदान करती है ।। Ishvar Chintan Safalata Ki Sonch Pradan Karati

Read more

चिंता ‘चिता’ समान है और चिंतन ‘अमृत’ सामान ।।

चिंता ‘चिता’ समान है और चिंतन ‘अमृत’ सामान ।। Chinta Chita And Chintan Amrit Saman Hai. जय श्रीमन्नारायण, मित्रों, आयुर्वेद

Read more

जो वस्तुएं हमारा नहीं उसका लोभ कैसा ?।।

जो वस्तुएं हमारा नहीं उसका लोभ कैसा ?।। Jo Vastu Hamara Nahi Uska Lobh Kaisa. जय श्रीमन्नारायण, मित्रों, जो वस्तुएं

Read more

धर्म के ह्रास होने का कारण तथा ज्ञानी महात्माओं के लक्षण ।।

धर्म के ह्रास होने का कारण तथा ज्ञानी महात्माओं के लक्षण ।। Dharm Ke Hras Hone Ka Karan. जय श्रीमन्नारायण,

Read more

मुरली वाले ने ऐसा, करम कर दिया, अब किसी के रहम, की जरुरत नहीं।

मुरली वाले ने ऐसा, करम कर दिया, अब किसी के रहम, की जरुरत नहीं। Murali Wale Ne Aisa Karam Kar

Read more

एकादशी व्रत का महात्म्य एवं एकादशियों की संख्या और उनके नाम ।।

एकादशी व्रत का महात्म्य एवं एकादशियों की संख्या और उनके नाम ।। Ekadashi Mahatmya And Sankhya aur Unke Name. जय

Read more

मोहिनी एकादशी माहात्म्य कथा हिंदी में ।।

मोहिनी एकादशी माहात्म्य कथा हिंदी में ।। Mohini Ekadashi Mahatmya Katha in Hindi. जय श्रीमन्नारायण, मित्रों, वैशाख मास के शुक्ल

Read more

इन बातों को ध्यान में रखने से परिवार और समाज में बदनामी नहीं होती है ।।

इन बातों को ध्यान में रखने से परिवार और समाज में बदनामी नहीं होती है ।। Samaj Me Badnami Se

Read more

परिश्रम से अधिक पारिश्रमिक कोई दे सकता है तो वो हैं भगवान “बालक ध्रुव” ।।

परिश्रम से अधिक पारिश्रमिक कोई दे सकता है तो वो हैं भगवान “बालक ध्रुव” ।। Over labor remuneration Only God.

Read more